योगी आदित्यनाथ ने किया ताजमहल का समर्थन, दिए ये बयान

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने ताजमहल विवाद पर बयान दिया है. उन्होंने कहा कि ताजमहल उनके लिए बहुत महत्वपूर्ण है. उन्होंने साफ़ किया कि इससे कोई फ़र्क़ नहीं पड़ता कि इसे किसने बनवाया है और इसका कारण क्या था लेकिन ये बना भारतीय लोगों के खून और पसीने से है.

उन्होंने कहा कि टूरिज्म के ऐतबार से सुरक्षा और फैसिलिटी देना हमारी प्राथमिकता है.

मुख्यमंत्री का ये बयान इस लिहाज़ से भी महत्वपूर्ण है क्यूंकि उन्हीं की पार्टी के कुछ नेता ताजमहल को एतिहासिक धरोहर मानने से इनकार कर रहे हैं. इस बारे में विवादित विधायक संगीत सोम ने कहा था कि ताजमहल भारतीय कल्चर पर एक धब्बा है. उनके इस बयान पर विपक्ष के नेताओं ने कड़ी प्रतिक्रिया दी थी. ट्विटर पर भी भाजपा के उन नेताओं की सख्त आलोचना हुई थी जिन्होंने ताजमहल को भारतीय कल्चर का हिस्सा नहीं माना था.

कुछ अन्य ख़बरें, एक नज़र में..
1. उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू ने आज कहा कि आधार बहुत ज़रूरी है क्यूंकि ये बिचौलिओं को ख़त्म कर देगा और साथ ही भ्रष्टाचार भी रुकेगा. नायडू ने कहा कि उन्हें ख़ुशी है कि लोग आधार रजिस्ट्रेशन करवा रहे हैं.

2. कर्णाटक मुख्यमंत्री सिद्दरामैयाह ने उन ख़बरों का खंडन किया है जिसमें ये कहा गया था कि कर्णाटक सरकार विधायकों को सोने के बिस्कुट देने वाली है.

3. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दूसरे आयुर्वेद दिवस पर आल इंडिया इंस्टिट्यूट ऑफ़ आयुर्वेद की स्थापना की घोषणा की. उन्होंने इस मौक़े पर कहा कि कोई भी देश विकास की कितनी ही चेष्टा करे, लेकिन वो तब तक आगे नहीं बढ़ सकता जब तक अपने इतिहास और विरासत पर गर्व करना नहीं जानता.

Leave a Reply

Your email address will not be published.