योगी सरकार के ख़िलाफ़ युवाओं का “रोज़गार बचाओ आन्दोलन”; ‘BJP सरकार में किसी को नौकरी नहीं’

January 8, 2018 by No Comments

लखनऊ: उत्तर प्रदेश में अभी भाजपा सरकार को एक साल भी नहीं हुआ है और उसका विरोध बड़े स्तर पर होने लगा है. 90 दिनों में भर्तियाँ करने के वादे पर सरकार बनाने में कामयाब हुई भाजपा के ख़िलाफ़ युवाओं ने बड़ा मोर्चा खोल दिया है. “रोज़गार बचाओ अभियान” के बैनर तले आज लखनऊ में गाँधी प्रतिमा पर विरोध प्रदर्शन किया गया. 10 महीने से अधिक हो जाने के बावजूद भी भर्तियाँ ना शुरू होने से आक्रोशित छात्रों ने यहाँ अपनी बात सरकार तक पहुंचाने की कोशिश की.

इस अभियान से जुड़े ज्योति राय ने कहा,”युवाओं का सवाल ही सबसे महत्वपूर्ण सवाल है और हमें ये समझना होगा कि जब तक युवाओं को रोटी नहीं मिलेगी तब तक देश का भला नहीं हो सकता.. हम तो ये चाहेंगे कि रोज़गार को मौलिक अधिकार बनाया जाए.” सुधांशु बाजपाई ने अपनी बात रखते हुए कहा कि योगी जी छात्रों-नौजवानों ने रोजगार के लिए सरकार चुनी थी,जुमला सुनने के लिए नहीं, सभी आयोगों के चेयरमैन की तत्काल नियुक्ति हो, नयी भर्तियां शुरू हो अन्यथा रोजगार के सवाल पर वायदाखिलाफी का छात्र पुरजोर जवाब देंगे. इस अभियान को हालाँकि स्वतंत्र छात्र ही करा रहे हैं लेकिन इसको समाजवादी छात्रसभा और SFI जैसे संघठनों से जुड़े छात्र नेताओं ने समर्थन दिया है. SFI के प्रवीन पाण्डेय ने कहा कि फ़ासीवादी भाजपा का रवैया पूरी तरह से युवाओं के ख़िलाफ़ है.

अरग़वान रब्बही ने कहा कि ये एक ऐसी सरकार है जिससे कोई समाज ख़ुश नहीं है,चाहे वो हिन्दू हो,मुसलमान हो, सिख हो या ईसाई रोज़गार तो सबको चाहिए लेकिन भाजपा सरकार में किसी को रोज़गार नहीं मिल रहा है. इस अभियान में दुर्गेश कुमार चौधरी, सुधांशु बाजपेयी, ज्योति राय, अरग़वान रब्बही, अंकित सिंह “बाबू”, वैभव मिश्रा, महेंद्र यादव, आबशारुद्दीन, नसीम ख़ान, शाह मुहम्मद अफ़ज़ल,अभिषेक श्रीवास्तव,नवाज़ शरीफ़, आशुतोष अग्निहोत्री,हिमांशु बाजपेयी, धनंजय मिश्रा,अमित यादव तथा अन्य लोग मौजूद रहे.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *