भीड़-हिंसा को बढ़ावा देकर योगी जी ‘अच्छे दिन’ लाना चाहते हैं: कन्हैया कुमार

January 27, 2018 by No Comments

जवाहर लाल नेहरु विश्विद्यालय के पूर्व अध्यक्ष कन्हैया कुमार ने भाजपा पर निशाना साधा है. उन्होंने उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार पर आरोप लगाया कि ये शोषितों के ख़िलाफ़ फ़र्ज़ी मुक़दमे लगा रही है और साथ ही भीड़-हिंसा को बढ़ावा दे रही है. उन्होंने भीम आर्मी के संस्थापक चन्द्रशेखर आज़ाद पर रासुका लगाए जाने को लेकर भी भाजपा सरकार को घेरा है.

उन्होंने एक ट्वीट करते हुए कहा,”हज़ारों स्कूल बंद करने वाली भाजपा सरकार ने शोषितों के लिए स्कूल खोलने वाले चंद्रशेखर को रासुका लगाकर जेल में बंद कर रखा है,वहीँ योगी जी ने अपने खिलाफ सारे मुक़दमे वापिस ले लिए हैं।युवाओं पर फ़र्ज़ी मुक़दमे लगाकर और भीड़-हिंसा को बढ़ावा देकर सरकार ‘अच्छे दिन’ लाने की ओर अग्रसर है।”

उन्होंने जिग्नेश मेवाणी के उस ट्वीट को भी साझा किया जिसमें उन्होंने ‘पकौड़ा इकोनॉमिक्स’ को निशाना बनाया है. कन्हैया ने कहा कि पहले तो अपनी डिग्री पूरी करने के लिए शिक्षा ऋण लीजिये और उसके बाद पकौड़े बेच कर 200 रूपये रोज़ाना कमाइए, मोदी के ‘Skill डेवलपमेंट’ में S तो साइलेंट ही है. उन्होंने कहा कि इससे सिद्ध हुआ.. ‘पकौड़ानोमिक्स’ को रिजेक्ट कीजिये. इसके पहले जिग्नेश ने ट्वीट किया था और साथ में एक फ़ोटो भी साझा किया था जिसमें एक पकौड़ा बेचने वाले के स्टाल का बैनर नज़र आ रहा है. इसमें लिखा है कि ‘नरेंद्र मोदी पकौड़ा स्टाल’, मिनिमम वेजेस से भी कम कमायें.

गौरतलब है कि हाल ही में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एक चैनल को इंटरव्यू देते हुए कहा था कि पकौड़ा बेचने वाला भी रोज़गार में है और वो रोज़ 200 रूपये कमा कर ले जाता है. मोदी के इस बयान की सोशल मीडिया पर तीख़ी आलोचना हुई थी.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *