भाजपा पर बरसे योगी सरकार में मंत्री, उपचुनाव के नतीजे याद दिलाए

October 14, 2018 by No Comments

बलिया: अगले साल लोकसभा के चुनाव होने हैं और अब बड़ी पार्टी हो या छोटी सभी अपनी-अपनी तैयारियों में जुट गयी हैं. इस बीच भाजपा और कांग्रेस अपना-अपना कुनबा मज़बूत करने में भी लगे हुए हैं. परन्तु भाजपा को मुश्किल देने के लिए भाजपा के कुछ अपने नेता और कुछ सहयोगी आगे आये हुए हैं. असल में ये माना जाता है कि दिल्ली की सत्ता का रास्ता उत्तर प्रदेश से होकर गुज़रता है.

उत्तर प्रदेश में कुल 80 लोकसभा सीटें हैं, पिछले लोकसभा चुनाव में भाजपा ने यहाँ शानदार जीत हासिल की थी और बसपा एक भी सीट नहीं जीत सकी थी. परन्तु अब भाजपा के ही सहयोगी और उत्तर प्रदेश सरकार में मंत्री ने एक ऐसा बयान दिया है कि भाजपा के नेता ही समझ नहीं पा रहे हैं कि प्रतिक्रिया क्या दें.

योगी के मंत्री का बड़ा बयान
उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार में मंत्री ओम प्रकाश राजभर ने ऐसा बयान दिया है जो सियासत में हलचल पैदा करने के लिए काफ़ी है. राजभर लम्बे समय से भाजपा के ख़िलाफ़ बयान देते रहे हैं लेकिन अभी तक उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार उन्हें मंत्री पद से नहीं हटा रही है. राजभर ने अब बयान दिया है कि पिछड़ी जाति के 27% आरक्षण का बँटवारा करो नहीं तो ये सोच लेना कि उत्तर प्रदेश में खाता भी नहीं खुलने दूँगा.

उन्होंने भाजपा पर हमला बुलते हुए कहा कि आरक्षण के मामले में अगर सरकार ने अपना रवैया ठीक न किया तो भाजपा उत्तर प्रदेश में जीतना तो दूर खाता खोलने का भी न सोचे. बलिया में राजभर ने कहा कि भाजपा नेता नोट बांटते हैं और साथ ही मुर्गा भी. उन्होंने कहा कि ग़रीब नोट भी लेगा, मुर्गा भी खायेगा पर तुम्हें वोट नहीं देगा. राजभर ने कहा,”तुम्हें(भाजपा) वोट नहीं देगा अगर तुमने काम नहीं किया तो”.वो आगे कहते हैं कि भाजपा को उपचुनावों के नतीजे याद कर लेने चाहिएँ.

राजभर ने कहा कि गोरखपुर, फूलपुर, कैराना और नूरपुर के नतीजे याद रक्खें भाजपाई.आपको बता दें कि ओम प्रकाश राजभर सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के नेता हैं. पार्टी का उत्तर प्रदेश में भाजपा के साथ गठबंधन है लेकिन राजभर लगातार अपने सहयोगी दल पर हमला बोलते रहे हैं.सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के उत्तर प्रदेश में 4 विधायक हैं.पार्टी पूर्वी उत्तर प्रदेश के कुछ इलाक़ों में प्रभावी है.

राजभर की नाराज़गी के विषय पर भाजपा के नेता बोलने से बच रहे हैं वहीं राजभर के कैम्प का कहना है कि जब तक भाजपा गठबंधन तोड़ नहीं देती सुहेलदेव पार्टी अलग नहीं होगी. भाजपा के लिए ये दोनों ही ओर से मुश्किल स्थिति है.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *