देश के युवा मोदी नहीं बल्कि हार्दिक और कन्हैया जैसे नेता चाहते हैं: जिग्नेश मेवानी

December 20, 2017 by No Comments

गांधीनगर: गुजरात विधानसभा चुनावों में बीजेपी ने 99 सीटें जीतकर छठी बार राज्य में सत्ता हासिल कर ली है। जबकि कांग्रेस ने भी इस बार बीजेपी को कांटे की टक्कर दी है। इस बार कांग्रेस ने गुजरात में 77 सीटें हासिल की है। जिसमें गुजरात में युवा नेताओं हार्दिक पटेल, अल्पेश ठाकोर और जिग्नेश मेवानी की तिकड़ी की काफी अहम भूमिका रही।
अल्पेश ठाकोर और जिग्नेश मेवानी चुनाव जीतने के बाद काफी उत्साहित नजर आ रहे हैं। इस जीत के बाद हार्दिक पटेल, अल्पेश ठाकोर और जिग्नेश मेवानी ने इंडिया टुडे को एक इंटरव्यू दिया। जिसमें न्यूज़ एंकर अंजना ओम कश्यप से बातचीत करते हुए उन्होंने देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को राजनीति छोड़ने की सलाह दे डाली।
इस दौरान पीएम मोदी पर हमला बोलते हुए जिग्नेश मेवाणी ने कहा कि मोदी बोरिंग हैं, युवा लोग मोदी की जगह अल्पेश ठाकोर, हार्दिक पटेल और कन्हैया जैसे नेता चाहते हैं। मोदी के भाषण में अब कोई विषय नहीं बचा है, वह काफी बोरिंग हैं उन्हें अब पहाड़ पर अपनी हड्डी गलाने के लिए चले जाना चाहिए।
आरक्षण, विकास, नौकरियों और किसानों के अधिकारों को लेकर लड़ाई लड़ने की बात करते हुए उन्होंने कहा कि हमने उन्हें विकास के मुद्दे पर घेरा, जातिवाद पर नहीं। जब हम तीनों 2 करोड़ बेरोजगार युवाओं के लिए रोजगार की बात करते हैं तो हम दलित या पटेलों का जिक्र नहीं करते।
उन्होंने कहा कि 2019 के चुनावों में दलित समाज के लोग बीजेपी के खिलाफ वोट देंगे।  दलित वोट बिल्कुल भी नहीं बंटा है, दलितों ने बीजेपी के समर्थन में वोट नहीं किया है। ऊना कांड पर जिग्नेश ने कहा कि दलित इस घटना को कभी नहीं भूलेंगे। चुनाव में भले ही बीजेपी जीती हो, लेकिन हमारी नैतिक जीत हुई है।
वहीँ हार्दिक ने कहा कि मैं खुश हूं कि गुजरात में 25 साल बाद विपक्ष मजबूती से खड़ा हुआ है। मैं कोई नेता नहीं हूं, बल्कि आंदोलनकारी हूं। जिग्नेश और अल्पेश विधानसभा में जाकर जनता की आवाज़ उठाएंगे।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *